10 वर्षों में महज 4 लोगों को ही फांसी मिली जबकि 1,303 लोगों को मृत्युदंड दिया गया

You may also like...