मेरे ऊपर फब्तियां तुम कसते हो और तुम मुझे ‘रंडी’ कहते हो-सुमित गौर

You may also like...