Tagged: disaster

की ज़ख्म अभी बाक़ी है, कुदरत का सितम बाक़ी है

जम्मू एवं कश्मीर में बाढ़ को आए एक साल हो गए हैं। कई लोगों की ज़िंदगी में वो बर्बादी की तरह आई और उनकी हसीन दुनिया को उजाड़ कर चली भी गई। आज भी...






'सुनामी' अभी भी सुनाई देती है

‘सबकुछ खत्म हो गया’…10 साल पहले दुनिया के सबसे भयावह प्राकृतिक आपदा ‘सूमानी’ की चपेट में आए 14 देशों के लोग यही कह रहे थे। इन लोगों की जिंदगी जैसे थम सी गई थी।...