Tagged: JHARKHAND

कोयला निकालना इतना आसान काम नहीं है- तस्वीरों में देखें

¶धरती के गर्भ से कोयला को निकालना उतना ही मुश्किल है जितना की समुद्र के पानी को मिठा करके पीना। आज देश तरक्की कर रहा है, आगे बढ़ रहा है। हम बांग्लादेश,नेपाल और भूटान...






विकसित तो हैं ही ये, बस हमको तय करना है कि विकास की परिभाषा क्या है?- छत्तीसखंड-1

आदिवासियों के विकास के नाम पर झारखंड और छत्तीसगढ़ राज्य को अलग किया गया था लेकिन अभी तक इन क्षेत्रों का विकास नहीं हुआ है। इसकी वजह जानने पर पता चला कि इन राज्यों...






मच्छरों से मुक्त होगा पूरा विश्व, वैज्ञानिकों ने पाई सफलता

लंदन, 21 मार्च (एजेंसी)| लंदन की शोध पत्रिका ‘मलेरिया’ में प्रकाशित एक खबर की माने तो शोधकर्ताओं को एक बहुत बड़ी सफलता हाथ लगी है। मलेरिया को रोकथाम के लिए शोधकर्ताओं ने सेडरॉल नाम...






अखबार वाली खबरें-MORNING HEADLINES

JAMMU: जम्मु-कश्मीर में पीडीपी और भाजपा की गठबंधन सरकार तो बन गई है लेकिन आपस में तालमेल नहीं दिख रही है। राज्य के मुख्यमंत्री मुफ़्ती मोहद सईद ने जम्मु-कश्मीर की जेलों में बंद राजनीतिक...






राज्यों की राजधानी से राजनीतिक खबर

सचिवालय में मीडिया पर बैन लगा दिया गया है। सुरक्षा के लिहाज से लिया गया फैसला मोदी सरकार की एक रणनीति है। इसकी मदद से वो मीडिया को पास बी फटकने नहीं देना चाहते...






उतरने लगा मोदी मैजिक!

शंभूनाथ शुक्ल दिल्ली:  दिल्ली में आम आदमी पार्टी को जिस तरह छप्पर फाड़ सफलता मिली है उससे हर आमो-खास हैरत में है। खुद आम आदमी पाटी आप को भी इतनी आशातीत सफलता की उम्मीद...






कोयलांचल की ‘ब्लैक डायमंड’ हैं वैशाली

देश की कोयला राजधानी, धनबाद को लोग मुख्य रूप से कोयला व उद्योग के लिए ही जानते  है। अपनी लगन, अपनी मेहनत और अपनी सोच से धनबाद की वैशाली सिंह ने इस मिथ्या को...






दरअसल नक्सलियों को आपलोगों ने अच्छे से समझा ही नहीं

आज देश में कई तरह की समस्याएं है और सभी का समाधान संभव है लेकिन सरकार की नीयत हर बार यह साफ जाहिर कर देती है कि सरकार इन सब मामलों को सुधारना ही...